राजमा खाने का सही समय है दोपहर, जानें इसके बेमिसाल 6 फायदे

राजमा की दाल किसे पसंद नहीं, नॉर्थ इंडिया में तो आपको इसे लाखों दीवाने मिल जाएंगे । लेकिन स्‍वाद के साथ ये भी ध्‍यान रखें कि राजमा आपको कैसे फायदा पहुंचा सकती है । इसे खाने का भी एक सही समय होता है ।

New Delhi, May 29 : राजमा, इसे किडनी बीन कहा जाता है । किडनी के जैसा शेप होने के कारण और इसके पोषक तत्‍वों की वजह से ये बहुत ही सेहतवर्धक माना जाता हे । खासतौर पर किडनी के लिए । इसमें विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है, साथ ही ये एंटीऑक्‍सीडेंट से भी भरपूर होता है । राजमा अकसर राइस के साथ खाया जाता है, लेकिन इसे खाते हुए ये ध्‍यान रखें कि आप इसे सही समय पर खाएं । ये बादी वाली दाल मानी जाती है, ऐसे में इसे खाने से गैस की प्रॉब्‍लम हो सकती हे । इसलिए इसे रात में बिलकुल ना खाएं । आगे जानें राजमा दाल खाने के फायदे ।

Advertisement

एंटी ऑक्सीडेंट
आपको बता दें कि राजमा का इस्तेमाल रुमेटिक, आर्थराइटिस और मूत्र मली की समस्या की दवा बनाने में भी किया जाता है,  इसमें एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा भी भरपूर होती है। एंटी ऑक्सीडेंट्स को शरीर में कोशिकाओं की मरम्मत के लिये अच्छा माना जाता है, साथ ही इसे खाने से शरीर के टॉक्सिन्स दूर होते हैं, और स्किन पर भी निखार आता है।

Advertisement

कैंसर का खात्मा
राजमा में फ्लेवोनॉइड्स के साथ-साथ केंपफ्रेंरॉल और क्यूरेस्टिन पाया जाता है, जो कैंसर की कोशिकाओं को बढने से रोकता है,  रिसर्च के मुताबिक सप्ताह में 3 से 4 बार राजमा का सेवन महिलाओं को स्तन कैंसर की समस्या से बचाता है, इसके साथ ही अगर आप एक संतुलित मात्रा में राजमा का सेवन करेंगे, तो आपकी पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है, इससे पेट से जुड़ी बीमारियां खत्म होने का भी खतरा नहीं रहता है।

डायबिटीज
आपको बता दें कि राजमा का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, इसका मतलब होता है कि जिस तरह से अन्य भोज्य पदार्थों से रक्त में शुगर बढ जाता है, ऐसा राजमा के साथ नहीं होता, इसमें मौजूद फाइबर ब्लड में शुगर का स्तर बनाये रखने में मदद करता है, इसके साथ ही इसमें कैल्शियम और मैगनीज होता है, जिससे हड्डियां भी मजबूत होती है, साथ ही मैग्नीशियम से दिल की बीमारियों से भी बचाव होता है।

एंटीएजिंग
इसमें मौजूद विटामिन ए आपको जवां बनाये रखने में मदद करता है, इसके अलावा इसमें काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं । ये बढती उम्र की निशानियां दूर करता है, रोजाना राजमा के सेवन से आप खुद ही बदलाव महसूस करेंगे । इसके अलावा इसे खाने से चेहरे पर ग्लो भी आएगा । राजमा को सिर्फ उबालकर सैलेड के रूप में भी खाया जा सकता है । इसको इस तरह से सेवन करना बहुत ही पौष्टिक रहता है ।

प्रेग्नेंट महिलाओं के लिये फायदेमंद
डॉक्टरों के मुताबिक अगर गर्भावस्था के दौरान महिलाएं राजमा का सेवन करती है, तो गर्भस्थ शिशु के ह्दय का विकास सही ढंग से होता है, एक रिसर्च के अनुसार ऐसे शिशु अस्थमा से भी बचाने में सहायक है, इसलिये गर्भवती महिला को आहार में राजमा जरुर दिया करें, ताकि पैदा होने वाला शिशु स्वस्थ्य हो। लेकिन दिन में ही इसका सेवन करें ये जरूर याद रखें । प्रेग्‍नेंसी में गैस की प्रॉब्‍लम ज्‍यादा होती है, रात में राजमा का सेवन करना भारी पड़ सकता है ।

मासिक धर्म में राहत
राजमा खाने से फैट्स और कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है, साथ ही ये फाइबर और प्रोटीन का भी अच्छा स्त्रोत माना जाता है। इसके नियमित सेवन से महिलाओं और लड़कियों में पीरियड के दौरान होने वाली समस्या में काफी आराम मिलता है, हेल्थ एक्सपर्ट्स  मेनोपॉज के दौरान महिलाएं और लड़कियां इसका सेवन जरुर  करने की सलाह देते हैं।