श्‍वेता तिवारी की बातें सुन खौल उठा पति अभिनव कोहली का खून, कहा-मैंने नहीं मारा-वो मारती थी

श्वेता तिवारी पिछले दिनों अपनी दो टूटी हुई शादियों पर खुलकर बोली थीं, खुद पर हुई घरेलु हिंसा की भी चर्चा की थी । अब उनके दूसरे पति ने इस बयान पर प्रतिक्रिया दी है ।

New Delhi, Apr 03: टीवी एक्‍ट्रेस श्‍वेता तिवारी इन दिनों अपनी प्रोफेशनल लाइफ से कहीं ज्यादा पर्सनल लाइफ को लेकर सुर्खियों में बनी हुई हैं। श्वेता पिछले लंबे समय से अपने दूसरे पति अभिनव कोहली से अलग रह रही हैं, दोनों के बीच की लड़ाई सोशल मीडिया पर भी नजर आई । श्‍वेता ने हाल ही में एक इंटरव्यू दिया था,  जिसमें उन्होंने शादी के बाद अपने टूटे दिल का हाल बयां किया था । श्वेता ने कहा था कि उनकी बेटी पलक ने उन्‍हें पिटते हुए देखा है । इन सबके बाद मैंने अपनी जिंदगी में बड़ा कदम उठाने का फैसला किया। श्‍वेता ने कहा पलक ही नहीं उनका छोटा बेटा भी कोर्ट कचहरी के बारे में जानता है । अब श्‍वेता के आरोपों पर उनके पति अभिनव ने चुप्पी तोड़ी है ।

अभिनव ने दिया बयान
स्पॉटब्वॉय को दिए एक इंटरव्यू में अभिनव ने कहा- मैंने श्वेता को कभी नहीं पीटा, सिवाय उस थप्पड़ के जिसका जिक्र पलक ने खुद अपने लेटर में किया था। मैं उस थप्पड़ के लिए दोनों से माफी मांग चुका हूं। सारा कन्फ्यूजन श्वेता ने क्रिएट किया है ताकि यह साबित कर सकें कि मैंने उनके साथ घरेलू हिंसा की है जो कि सच नहीं है। मैं कभी महिलाओं को पीटने वाला नहीं रहा हूं।

वो मुझे छड़ी से मारती थी …
अभिनव ने आगे कहा – श्वेता ने जानबूझकर मुझे पत्नी को पीटने वाले के रूप में पेश किया, जबकि वह खुद मुझे छड़ी से मार चुकी है। जब 2017 में हमारा झगड़ा हुआ और वह मेरे 3 महीने के बच्चे को लेकर मुझसे अलग हो गईं तो मैंने बच्चे से मिलने की कोशिश की। इंस्टाग्राम पर फोटो भी शेयर की, जिसमें मेरी आंख के नीचे काला निशान देखा जा सकता है। जबकि श्वेता ने कहा था कि उकसाने पर भी उन्होंने मुझे नहीं मारा था। हालांकि ये बात किसी को पता नहीं चली क्योंकि मैं मीडिया में नहीं गया।

अभिनव ने कहा, हमारे बीच बहुत तनाव हुए
अभिनव ने आगे बताया- एक दिन पलक ने श्वेता से मुझे घर से बाहर निकालने के लिए कहा। तभी से चीजें खराब हो रही हैं। मुझे इस चीज का काफी बुरा लगा है। बाद में मेरे और श्वेता के बीच छोटे-छोटे तनाव भी पैदा हुए, मैं नाराज हूं उन बयान से जो मेरे ऊपर किए गए। वहीं श्वेता के मुताबिक, उनके गलत आदमी के चुनाव की सजा उनके बच्‍चे भुगत रहे हैं । उन्‍हें नहीं समझ आता कि वो उन हालातों से अपने बच्चों को कैसे बचाएं। बच्चों की गलती ना होते हुए भी उन्हें मुस्कुराते हुए इतना सबकुछ झेलना पड़ा।