ऐसा क्‍या जानते हैं आशुतोष कि केजरीवाल उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार नहीं करना चाहते ?

आम आदमी पार्टी को एक बड़ा झटका आशुतोष की ओर से मिला है, पार्टी के प्रमुख प्रवक्‍ता आशुतोष ने ट्वीट कर पार्टी से अपना इस्‍तीफा दे दिया । वहीं उन्‍हें मनाने की कोशिशें लगातार जारी हैं ।

New Delhi, Aug 16 : पत्रकारिता से राजनीति में आने वाले आशुतोष ने अचानक आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, उन्होने अपने इस्तीफे की वजह निजी कारण बताया है, ट्विटर के माध्यम से उन्होने इसकी घोषणा की । लेकिन आशुतोष का ये इस्‍तीफा आप संयोजक और दिल्‍ली के मुख्‍यमात्री ने स्‍वीकार करने से इनकार कर दिया है ।टाशुतोष के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए केजरीवाल ने उनके इस्‍तीफे को स्‍वीकार करने से मना कर दिया है ।

Advertisement

‘इस जनम में तो बिलकुल नहीं’
आशुतोष के रेसिगनेशन के बाद अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि ‘हम कभी भी आप का इस्तीफा कैसे स्वीकार कर सकते हैं? ना, इस जन्म में तो नहीं.’ आपको अइस ट्वीट के बाद केजरीवाल की ओर से एक और ट्वीट आया, उन्‍होने इसमें एक तस्‍वीर भी पोस्‍ट की । उस पर लिखा कि हम सभी आपको बहुत प्‍यार करते हैं । आपको बता दें 15 अगस्‍त पर आशुतोष ने आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका देते हुए ट्विटर पर ही अपना इस्‍तीफा दे दिया था ।

Advertisement

आशुतोष का ट्वीट
आम आदमी पार्टी के दूसरे बड़े नेताओं ने भी आशुतोष के इस इस्‍तीफे पर हैरानी जताई । इस्तीफे के बाद आशुतोष ने कहा ”आम आदमी पार्टी के साथ मेरा सहयोग सुंदर और क्रांतिकारी था, जो अब समाप्त हो गया है. मैंने पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया है और पीएसी से अनुरोध किया है कि इसे स्वीकार करें”. आशुतोष ने इस्तीफे के पीछे निजी वजहों का हवाला दिया है ।

एनडी गुप्‍ता का बड़ा बयान
आशुतोष के इस्‍तीफे के बाद पार्टी के राज्‍यसभा सदस्‍य एनडी गुप्‍ता का बड़ा बयान आया है । आप के राज्यसभा सदस्य एनडी गुप्ता ने कहा, ‘यदि राज्यसभा उम्मीदवारी आशुतोष के इस्तीफे के पीछे कारण है, तो मैं राज्यसभा से इस्तीफा देने को तैयार हूं। आशुतोष आप के एक वरिष्ठ सदस्य हैं, मुझे मीडिया के माध्यम से उनके इस्तीफे के बारे में पता चला। हम बात करेंगे और उनसे फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए राजी करने की कोशिश करेंगे।’

ऐसी खबरें आई थीं
आम आदमी पार्टी से इस्‍तीफा देने वाले आशुतोष ने भले इसे पूरी तरह से निजी कारण बताया हो लेकिन इसके पीछे अटकलें यही लग रही थीं कि आशुतोष राज्यसभा न भेजे जाने की वजह से पार्टी से नाराज चल रहे थे । इन्‍हीं अफवाहों के चलते एनडीगुप्‍ता ने ये बयान दिया है । इन्‍हीं कारणों से आम आदमी पार्टी कुमार विश्‍वास को भी खो चुकी हैं ।  कुमार अभी भी आम आदमी पार्टी के सदस्य हैं, लेकिन निष्क्रिय हैं, साथ ही वो अपनी कविता के जरिये आप नेतृत्व पर तंज कसने में भी पीछे नहीं रहते हैं।

कुमार विश्‍वास का ट्वीट
आशुतोष के इस्‍तीफे के बाद कुमार विश्‍वास का तंजभरा ट्वीट आया । उन्‍होने ट्वीट किया – ”हर प्रतिभासम्पन्न साथी की षड्यंत्रपूर्वक निर्मम राजनैतिक हत्या के बाद एक आत्ममुग्ध असुरक्षित बौने और उसके सत्ता-पालित, 2G धन लाभित चिंटुओं को एक और “आत्मसमर्पित-क़ुरबानी” मुबारक हो! इतिहास शिशुपाल की गालियां गिन रहा है. आज़ादी मुबारक” आशुतोष पहले पार्टी ने अपने वरिष्‍ट सा‍थियों योगेन्‍द्र यरदव और प्रशांत भूषण से भी किनारा किया है । जिसके बाद शुरुआती दौर में आप से जुड़े कई नेता एक-एक कर पार्टी का साथ छोड़कर जाते रहे ।