कुंवारा प्रेमी और शादीशुदा प्रेमिका, ऐसे किया था एक दूसरे का खात्‍मा, सुसाइड नोट ने खोली कत्‍ल की गुत्‍थी

प्‍यार की कोई उम्र नहीं होती, लेकिन समाज के दायरों से अलग जो मोहब्‍बत करे उसका अंजाम कुछ ऐसा ही होता है । एक शादीशुदा महिला और कुवारे युवक को प्‍यार करने की कीमत कुछ ऐसे ही चुकानी पड़ी ।

New Delhi, Sep 12 : ये इश्‍क नहीं आसां, बस इतना समझ लीजिए, एक आग का दरिया है और डूब कर जाना, मोहब्‍बत को लेकर कही गई ये बातें कितनी नाटकीय जान पड़ती हैं । हमारे समाज में प्रेम की आजादी अब भी नहीं है, लड़का – लड़की आज भी घरवालों के सामने अपनी मोहब्‍बत के बारे में बताने से पहले 100 बार झिण्‍कते हैं । क्‍योंकि नकारे जाने का डर है । लेकिन मोहब्‍बत कब रोके रुकी है, कुछ ऐसा ही हुआ मीत और कुंजल के साथ । दोनों ने समाज के दायरे से बाहर जाकर इश्‍क का जाल तो रचा लेकिन फिर उसमें खुद ही फंस गए ।

Advertisement

कुंवारे लड़के से प्रेम की कीमत
झाटना गुजरात के वडोदरा की है । जहां आनंदबाग सोसायटी की रहने वाली 26 वर्षीय विवाहिता की शुक्रवार सुबह साढ़े 10 बजे अपने ही घर में लाश मिली । पुलिस ने मामले की छानबीन की तो पता लगा कि कुंजल की मौत एक हत्‍या थी और इसमें उसके ही प्रेमी मीत पंचाल का हाथ था । कुंजल ने ही मीत को उसे मारकर खुद मर जाने के लिए कहा था ।

Advertisement

मीत ने ट्रेन के नीचे आकर दी जान
मीत पंचाल और कुंजल को जब इस बात का एहसास हुआ कि उन दोनों के बीच जो कुछ है वो सही नहीं है तब दोनों ने खुद की जान लेने का फैसला किया । कुंजल ने ही अपने प्रेमी मीत को कहा कि – मुझे मार कर तू भी मर जाना…इसके बाद मीत ने ऐसा ही किया उसने सुसाइड नोट लिखकर विवाहित प्रेमिका कुंजल की हत्या कर दी और दोपहर 1.38 बजे खुद भी ट्रेन के नीचे आकर खुदकुशी कर ली ।

कुंजल की भाभी का भाई था मीत
मीत गरोरा कोई और नहीं बल्कि कुंजल की भाई का चचेरा भाई था । दोनों एक दूसरे को पिछले 8 महीने से चाहते थे । पुलिस ने मृतक कुंजल के ससुराल और मायके से करीब 40 से ज्‍यादा लोगों से पूछताछ की । शक के आधार पर कुछ ओर जानकारी इकठ्ठी की गई । कुंजल के फोन रिकॉर्ड्स खंगाले गए तब जाकर मीत का नंबर पाया गया, जिस पर सबसे ज्‍यादा कॉल किए जाते रहे थे । मीत मृतक कुंजल के भाई हरीश की पत्नी खुशबू का चचेरा भाई था ।

15 घंटे में मिस्‍ट्री सॉल्‍व
एक आम घरेलु औरत की मर्डर मिस्ट्री को पुलिस ने बड़ी ही सूझ-बूझ के साथ चंद घंटों में ही सुलझा दिया । पिछले 8 महीने से उसके और मीत के बीच चले आ रहे संबंधों की पोल कुंजल के फोन से खुल गई । समाज ऐसे रिश्‍ते को कभी स्‍वीकार नहीं करेगा ये सोचकर दोनों ने खुद को खत्‍म करने का ये कदम उठाया । मीत ने कुंजल की हत्‍या की और फिर खुद भी ट्रेन के नीचे कटकर जान दे दी ।