एक वैक्‍सीन और मोटापा छूमंतर !

वजन कम करने की जद्दोजहद में लगे लोगों के लिए ये खबर किसी खुशखबरी से कम नहीं । वाकई अगर मोटापा कम करने के लिए कोई वैक्‍सीन इजाद हो जाए तो कहना ही क्‍या ।

New Delhi, Aug 07 : जो लोग वजन कम करने के लिए सालों से मेहनत कर रहे हैं उनके लिए खुशखबरी है । एक बेहद आसान तरीका सामने आ सकता है जो आपके बढ़े हुए वजन को बिना मेहनत के कम कर देगा । ये आपको कुछ ही समय में सुडौल बना सकता है । आपके बढ़े हुए पेट को अंदर कर सकता है । शरीर पर जमा अतिरिक्‍त चर्बी को खत्‍म कर सकता है । क्‍रूा आप जानना चाहते हैं वो ऐसी कौन सी चीज ईजाद कर लीगई है जिससे मोटापा छूमंतर हो सकता है तो आइए आपको बताते हैं इस रिसर्च के बारे में विस्‍तार से ।

Advertisement

वजन बढऩे के लिए एक वायरस है जिम्‍मेदार
एडेनोवायरस-36, ये है आपके मोटापे को बढ़ाने का जिम्‍मेदार । आम लोगों की तुलना में मोटे लोगों में ये वायरस 4 गुना पाया जाता है । जानवरों पर हुए अध्‍ययन के अनुसार शरीर में करीब 15 प्रतिशत वजन बढ़ाने के लिए यही वायरस जिम्मेदार होता है । ब्रिटिश महिलाओं में ये औसतन डेढ़ स्टोन और पुरुषों में दो स्टोन का वजन बढ़ाता है ।

Advertisement

वायरस के नेगेटिव इफेक्‍ट
स्‍टडी के अनुसार यह वायरस बॉडी में दो तरह से नकारात्मक असर डालता है । एक तो ये फैट सेल्स को ज्वलनशील बनाता है वहीं  दूसरी ओर यह वायरस उन्हें डेड होने और शरीर से बाहर निकलने से रोकता है । इसीलिए प्रभावित कोशिकाएं मोटापे की समस्या पैदा कर देती हैं । ब्रेस्ट कैंसर से ग्रसित 80 महिलाओं पर हुई एक स्‍टडी में पाया गया कि 5 ज्यादा मोटी महिलाओं में से 4 महिलाओं में यह वायरस अधिक रूप से सक्रिय था ।

वायरस पर हुआ है शोध
ये वायरस वजन बढ़ाने का कारक है या नहीं इसे लेकर एक शोध बंदरों पर हो चुकी है । इस शोध के अनुसार, जिन बंदरों को यह वायरस दिया गया, उनका वजन बढ़ गया था । जबकि अन्‍य अध्‍ययनों में पाया गया कि मोटापे से ग्रसित लोगों में से करीब 30 फीसदी लोग इस वायरस से संक्रमित हैं । इस वायरस का संबंध आम तरह के इनफेक्‍शन्‍स से भी है । ये सर्दी, आंखों और दूसरे तरह के इन्फेक्शन को भी पैदा करता है ।

वैक्‍सीन पहले से मौजूद
यूनिवर्सिटी ऑफ मैस्च्युसेट्स के डॉक्टर विलमोर बेवले ने ब्रेस्ट कैंसर के रोगियों पर यह स्टडी की है । उनके मुताबिक श्वास संबंधी समस्याएं पैदा करने वाला एडेनोवायरस की रोकथाम के लिए ऑलरेडी  एक वैक्सीन पहले से ही यूएस आर्मी इस्तेमाल कर रही है । अगर ऐसा है तो मोटापे को पैदा करने वाले इस वायरस के खिलाफ भी वैक्‍सीन तैयार की जा सकती है ।  बताया जा रहा है कि ऐसी एक वैक्‍सीन बना भी ली गई है ।

पेटेंट का इंतजार
यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कॉन्सिन के डॉ. रिचर्ड एट्किनसन ने वायरस के लिए एक वैक्सीन को पेटेंट करा लिया है, लेकिन वह पैसे की कमी की वजह से इसका व्यावसायिक इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं । मेल टुडे को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि दक्षिण कोरिया में एक एकैडेमिक ने जानवरों पर वैक्सीन का परीक्षण कर लिया है और इस वैक्सीन से फैट सेल्स को संक्रमित होने से रोका जा सकता है । ये वैक्‍सीन सुरक्षित है और मोटापे से ग्रसित लोगों को दी जा सकती है ।