आशुतोष के इस्तीफे के बाद कुमार विश्वास का तंज, इशारों में कह दिया सबकुछ

आशुतोष द्वारा पार्टी छोड़ने के ऐलान के बाद डॉ. कुमार विश्वास ने ट्वीट कर उन्हें आजादी मुबारक कहा है।

New Delhi, Aug 15 : आप के वरिष्ठ नेता आशुतोष ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, कहा जा रहा है कि वो आप हाईकमान से पिछले कुछ समय से नाराज चल रहे थे, पार्टी द्वारा अनदेखी की वजह से उन्होने राजनीति छोड़ने का फैसला लिया है। उनके करीबियों का दावा है कि एक बार फिर से वो पत्रकारिता जगत में सक्रिय हो सकते हैं। हालांकि खुद आशुतोष ने इस्तीफा देने की बात बताते हुए कहा कि ये निजी कारणों से लिया गया मेरा फैसला है, साथ ही उन्होने मीडिया के लोगों से अपील की, कि वो उनके निजता का ख्याल रखें।

Advertisement

पहले ही दे दिया था इस्तीफा
सूत्र दावा कर रहे हैं कि आशुतोष ने आप संयोजक अरविंद केजरीवाल को कुछ महीने पहले ही अपना इस्तीफा सौंप दिया था, लेकिन तब केजरीवाल ने इसे मंजूर नहीं किया था और उन्हें इस पर फिर से विचार करने को कहा था। तब आशुतोष शांत हो गये थे। लेकिन अब उन्होने ट्वीट कर सार्वजनिक रुप से पार्टी छोड़ने का उन्होने ऐलान कर दिया है। कहा जा रहा है कि वो किसी और पार्टी में नहीं जाएंगे, बल्कि राजनीति से सन्यास लेंगे।

Advertisement

2014 में लड़ा था लोकसभा चुनाव
आपको बता दें कि साल 2014 में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आशुतोष ने टीवी पत्रकारिता को अलविदा कह आम आदमी पार्टी से जुड़े थे, उन्होने आप के टिकट पर दिल्ली के चांदनी चौक सीट से कपिल सिब्बल और डॉ. हर्षवर्धन के खिलाफ चुनाव लड़ा था, हालांकि लोकसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा, लेकिन वो पार्टी के लिये सक्रिय भूमिका निभाते रहे।

राज्यसभा ना मिलने से नाराज
सूत्रों का कहना है कि फरवरी में आप ने तीन सदस्यों को राज्यसभा भेजा, जिसमें पहले कुमार विश्वास, आशुतोष और संजय सिंह का नाम था, लेकिन कुमार के किसी बात से केजरीवाल नाराज हो गये, तो उन्होने कुमार का नाम काटकर उद्योगपति सुशील गुप्ता का नाम डाल दिया। kejriwalजिस पर आशुतोष ने आपत्ति जताई, तो उनका भी नाम काट दिया गया। फिर एनडी गुप्ता, सुशील गुप्ता और संजय सिंह को राज्यसभा भेजा गया। राज्यसभा ना भेजे जाने से आशुतोष ने पार्टी ने अपनी सक्रियता कम कर दी, जिसके बाद केजरीवाल और उनके खास लोगों ने उन्हें साइडलाइन कर दिया था।

कुमार ने कहा आजादी मुबारक
आशुतोष द्वारा पार्टी छोड़ने के ऐलान के बाद डॉ. कुमार विश्वास ने ट्वीट कर उन्हें आजादी मुबारक कहा है, आपको बता दें कुमार भी पार्टी हाईकमान से नाराज चल रहे हैं, वो अभी भी आप के सदस्य हैं, लेकिन बिल्कुल साइडलाइन हैं। कुमार के बारे में भी कहा जा रहा है कि वो भी जल्द ही आप छोड़ सकते हैं, हालांकि उन्हें जब भी मौका मिलता है, वो आप सुप्रीमो के खिलाफ तंज कसने का मौका नहीं छोड़ते हैं।