सुशील कुमार- छत्रसाल स्‍टेडियम में उस रात क्‍या हुआ? सामने आई मारपीट और हत्‍या की पूरी कहानी

sushil kumar

तो क्‍या  कॉलर पकड़ने से आग बबूला हो गए थे सुशील कुमार । पुलिस रिमांड में ओलंपिक मेडल विजेता खिलाड़ी से जुड़े चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं ।

New Delhi, May 27: पहलवान सागर धनखड़ हत्या मामले में चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं । इस केस में ओलंपिक मेउल विनर सुशील कुमार भी आरोपी हैं और पुलिस रिमांड में हैं । दरअसल, 4 मई को पहलवान सागर के साथ मारपीट हुई थी, जिसमें उसकी मौत हो गई । अब जांच में पता चला है कि उस दिन छत्रसाल स्टेडियम में आखिर सच में हुआ क्‍या था । बताया जा रहा है कि उस दिन कुछ लोगों ने सुशील कुमार की जमकर बेइज्जती की थी, इसी का बदला लेने के लिए उन्होंने हरियाणा से गुंडे बुलाए ।

ये है पूरा मामला
बताया जा रहा है कि बीती 4 मई को कुख्यात गैंगस्टर काला जठेड़ी के ममेरे भाई सोनू, रविन्द्र और कुछ और का सुशील कुमार के साथ मॉडल टाउन sushil sagar वाले फ्लैट को लेकर सुशील से झगड़ा हो गया था । इन्‍हीं लोगों ने सुशील पर दबाव बनाते हुए उनकी शर्ट का कॉलर पकड़ लिया । इसके साथ ही उन्‍हें बाद में देख लेने की धमकी देते हुए दौड़ा भी दिया । सुशील कुमार को ये अपनी बड़ी बेइज्‍जती लगी, खुन्नस में आकर उन्होंने उसी दिन बदला लेने की ठान ली थी ।

दूसरे गिरोह के बदमाशों को बुलाया
उसी दिन सुशील कुमार ने कुख्यात नीरज बवाना और असौदा गिरोह के बदमाशों को बुलाया । पुलिस के मुताबिक 4 मई को दिन में सुशील जब sushil kumar (2)छत्रसाल स्टेडियम आए थे तब उनके साथ ज्यादा पहलवान नहीं थे । लेकिन  स्टेडियम में अचानक उनकी सोनू, सागर, अमित, भक्तु, रविन्द्र और विकास से कहासुनी हो गई । तब तो सुशील वहां से चले गए, लेकिन उसके बाद उन्‍होंने अपने साथियों के साथ मिलकर बदमाशों को फोन कर तुरंत हरियाणा से दिल्ली बुला लिया, ये सभी पहले किसी अन्य जगह पर जमा हुए । कईयों ने शराब पी और खाना खाया ।

कार में सवार होकर पहुंचे थे
इसके बाद ये सभी 5-6 कारों में सवार होकर देर रात 12 बजे शालीमार बाग में रविन्द्र के घर पर पहुंचे, रविन्द्र उस समय वहीं मौजूद था वो अपने घर के नीचे आइसक्रीम खा रहा था । रविन्द्र और उसके साथी विकास को सुशी के साथियों ने अपनी कार में बैठाकर अगवा कर लिया । इसके बाद ये मॉडल टाउन स्थित सोनू के फ्लैट के पास पहुंचे । वहां से सोनू, सागर, अमित और भक्तु को भी कार में ले जाया गया । ये सभी रात करीब एक बजे छत्रसाल स्टेडियम पहुंचे थे । यहीं इन सभी ने बाकी छह पहलवानों को घेरकर लाठी, डंडे, हॉकी स्टिक आदि से बुरी तरह जानवरों की तरह पिटाई शुरू कर दी । कोर्ट को दी गइ र्जानकारी के अनुसार पुलिस ने बताया है कि इसी पिटाई के चलते सागर की बाद में मौत हो गई, सोनू को तो पेशाब पिलाने की भी कोशिश की गई थी ।