शिवपुराण के 6  संकेतों से जानिए, कब हो सकती है आपकी मृत्‍यु, स्वयं महाकाल ने बताया है

मृत्‍यु, जीवन का कड़वा सत्‍य है । लेकिन इससे बचा नहीं जा सकता । कहा जाता है कि इसकी भविष्‍यवाणी कोई नहीं कर सकता, लेकिन स्‍वयं महाकाल ने मौत का वर्णन शिवपुराण में किया है ।

New Delhi, Sep 14 : मौत, दुनिया का सबसे बड़ा रहस्‍य है । इसके बाद की दुनिया के बारे कोई नहीं जानता है । कही सुनी बातें तो बहुत है लेकिन सच्‍चाई कोई नहीं जानता । ज्‍यादातर लोग इससे जुड़े राज जानना चाहते हैं, लेकिन जब जानने की कोशिश करते हैं तों हाथ कुछ नहीं आता है । कुछ रहस्‍यों का उद्घाटन शिव पुराण में किया गया है । जिन्‍हें स्‍वयं महाकाल ने बताया है । मौत से जुड़े कुछ ऐसे संकेत जो भगवान शिव ने बताए हैं ।

Advertisement

जब दिशाएं समझ न आएं
शिव पुराण में लिखा है जब सूर्य और चंद्रमा दिखाई दें लेकिन फिर भी दिशाएं ना जान पड़ें तो समझिए ऐसे व्‍यक्ति की मृत्‍यु अगले 6 महीने में निश्चित है । वो व्‍यक्ति जिसे चंद्रमा और सूर्य के आस-पास काले और लाल रंग का घेरा दिखे उसकी मृत्यु 15 दिनों के अंदर-अंदर हो सकती है । ऐसा शिव पुराण में स्‍वयं महाकाल ने कहा है ।

Advertisement

तारे ठीक से न दिखाई देने का संकेत
जब आकाश में सप्तर्षि तारामंडल के के दर्शन न हो, ऐसे व्‍यक्ति की जिंदगी मात्र 6 महीने ही बाकी होने की संभावनाएं रहती हैं । चंद्रमा और तारों का ठीक से न दिख पाना आने वाले एक महीने में मौत का संकेत है । शिव पुराण के अनुसार ध्रुव तारा ना दिख पाना 6 महीने के अंदर मौत का संकेत माना गया है ।

चंद्रमा काला नज़र आए तो …
चंद्रमा या सूर्य का रंग अगर काला नजर आने लगे और सभी दिशाएं घूमती हुई लगें तो समझिए 6 महीने के अंदर जीवन खत्‍म होने वाला है । शिव पुराण में कही गई ये मान्‍यताएं प्राचीन काल में प्रयोग में लाई जाती थीं, इन विधाओं का प्रयोग व्‍यक्ति के अंतिम काल को समझने में किया जाता है ।

शरीर ठीक से काम न करे
व्‍यक्ति के शरीर का सफेद या पीला पड़ जाना साथ ही शरीर पर लाल चकत्‍ते पड़ जाना, ऐसे संकेत व्‍यक्ति की आने वाले 6 महीने में मृत्‍यु के संकेत देते हैं । ऐसे इंसान का जीवन खतरे में माना जाता है । वो व्‍यक्ति जिसकी इंद्रियां काम करना बंद कर दें, मुंह, कान, आंख नाक आदि सही तरह से काम ना करें, ऐसे व्‍यक्ति की मूत्‍यु 6 महीने के अंदर हो सकती है ।

बार-बार गला सूखने का संकेत
ऐसा व्‍यक्ति जिसका मुंह और गला बार-बार सूखने लगे, पानी-पीने पर भी तृप्ति महसूस ना हो तो ऐसे व्‍यक्ति की मृत्यु 6 महीने के अंदर हो सकती है । शिव पुराण के अनुसार वो व्‍यक्ति जिसका बायां हाथ अंगड़ाई लेने पर दर्द करता हो और हफ्ते भर से ज्‍यादा से फड़क रहा हो ऐसे व्‍यक्ति की मृत्‍यु भी एक महीने के अंदर हो सकती है ।

नीली मक्खियों का दिखना संकेत
ऐसा इंसान जिसके कहीं बाहर जगह पर जाने पर नीली मक्खियां घेर लेती हैं या सिर पर गिद्ध, कौआ, कबूतर आकर बैठ जाए तो ऐसे मनुष्य की जिंदगी महीने भर के अंदर खत्म होने की संभावनाएं हो सकती हैं । वहीं अगर किसी को गिद्ध या कौवे आकर घेर लें और हिरण के शिकार पर होने वाली  आवाज भी सुनाई न दे तो ऐसा व्यक्ति अगले 6 महीने में काल के गाल में समा सकता है ।