क्‍यों इतना चावल खाते हैं आप, इसके गंभीर परिणाम झेलने पड़ सकते हैं

जब तक चावल नहीं खाया, तब तक मानों खाना पूरा नहीं हुआ । लेकिन चावल खाना क्‍या वाकई जरूरी है, क्‍या आपकी डायट चावल के बिना वाकई अधूरी है । आगे जानिए ये जरूरी जानकारी ।

New Delhi, Sep 09 : चावल हो या रोटी, दोनों ही भोजन का जरूरी अंग हे । दोनों से ही हमारे शरीर को ऊर्जा मिलती है । पोषक तत्‍व प्राप्‍त होते हैं । लेकिन कई बार चावल का बहुत अधिक प्रयोग आपकी सेहत के लिए नुकसानादायक हो सकता है । हेल्‍थ एक्‍सपर्ट के मुताबिक सफेद चावल खाना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है । वाइट राइस में काफी मात्रा में कफ होता है । ये बच्‍चों और बड़ों दोनों के लिए ही हानिकारक है । आगे जानिए चावल से जुड़े कुछ ऐसे ही फैक्‍ट्स ।

Advertisement

वेट बढ़ता है
चावल खाने में बहुत ही हल्‍के होते हैं, हम कब इनका स्‍वाद लेते-लेते इन्‍हें बहुत अधिक मात्रा में खा लेते हैं हमें पता भी नहीं चलता । इन्‍हें खाने से बॉडी का वेट बहुत तेजी से बढ़ता है । चावल की डायट उन्‍हें ही खानी चाहिए जो शारीरिक रूप से खूब मेहनत करते हों । वो लोग जो दिनभर ऑफिस में बैठकर आराम फरमाते हैं चावल उनके लिए बिलकुल भी सही नहीं है ।

Advertisement

मधुमेह रोगी ना खाएं
चावलों में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है, ये बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है । इसमें मौजूद शुगर इंडेक्स बहुत ज्यादा होता है । यह रक्‍त में शुगर की मात्रा को अनिय‍ंत्रित कर देता है । चावल खाना मधुमेह रोगियों के लिए जहर समान होता है । इन्‍हें खाने से आपकी सेहत को और अधिक नुकसान पहुंच सकता है । ऐसी महिलाएं जिन्‍हे  पोलिसिस्टिेक ओवरी सिंड्रोम है उन्हें व्हाइट राइस बिल्कुल नहीं खाने चाहिए ।

प्रोटीन कैसे मिलेगा ?
सिफ चावल खाने वाले व्‍यक्ति के शरीर में प्रोटीन की कमी हो सकती है । इसमें प्रोटीन नाममात्र का पाया जाता है । सिर्फ चावल खाने वाले व्‍यक्ति को इससे बचने के लिए चावल के साथ दूसरे आहार को भी शामिल करना चाहिए । ज्‍यादा चावल खाना आपकी मांसपेशियों के लिए हेल्‍दी नहीं माना जाता । इसे अधिक मात्रा में खाने से बॉडी में स्‍वेलिंग आ सकती है । ये वॉटर रिटेंशन के कारण हो सकती है ।

बीपी और कब्‍ज वाले ना खाएं
डायबिटीज के अलावा ऐसे लोग जो बीपी के मरीज हैं उन्‍हें भी डॉक्‍टर चावल ना खाने की सलाह देते हैं । इसमें स्‍टार्च बहुत अधिक मात्रा में होता है । स्‍टार्च की अधिक मात्रा शरीर के लिए उपयुक्‍त नहीं है । यदि आपको कब्‍ज की प्रॉब्‍लम अकसर रहती है तो आपको चावलों का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए । सफेद चावलों में फाइबर बहुतकम मात्रा में होता है । इसलिए इन्‍हें पचाने में समय अधिक लगता है ।

ये लोग भी ना खाएं चावल
यदि आपको एलर्जी की समस्‍या है तो आपको चावल नहीं खाना चाहिए । खासतौर पर सफेद चावलों से परहेज करना चाहिए । आपका बहुतमन करे तो ब्राउन राइस खा लें । ये अच्‍छा ऑप्‍शन हो सकता है । एलर्जी की प्रॉब्‍लम को चावल और बढ़ा सकता है । खास तौर पर जिन्‍हें एलर्जी के तौर पर खारिश की समस्‍या होती है उन्‍हें चावल नहीं खाना चाहिए ।