कर्नाटक सत्ता संग्राम : वाजपेयी सरकार में थे मंत्री, अब बीजेपी के लिये खड़ी करेंगे मुसीबत

Ram jethmalani

सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी से विधायकों के समर्थन का पत्र मांगा गया है, जिससे ये भी साबित हो गया है कि पार्टी को बहुमत हासिल करना है।

New Delhi, May 17 : कर्नाटक में चल रही सियासी उठापटक के बीच बीजेपी के नये सीएम येदियुरप्पा ने पद और गोपनीयता की शपथ ले ली है। राज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुंची है। लेकिन सर्वोच्च न्यायालय ने इस पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। हालांकि बीजेपी से विधायकों के समर्थन का पत्र मांगा गया है, जिससे ये भी साबित हो गया है कि पार्टी को बहुमत हासिल करना है।

Advertisement

राम जेठमलानी ने दी चुनौती
सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने कोर्ट में राज्यपाल के फैसले को चुनौती दी है, कोर्ट ने इस मामले पर कहा कि वो राम जेठमलानी की अर्जी पर शुक्रवार को सुनवाई करेगा। jethmalani1आपको बता दें कि मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनाव नतीजे आने के बाद से घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। हर घंटे कुछ ना कुछ नया अपडेट आ रहा है।

Advertisement

येदियुरप्पा की शपथ के तुरंत बाद डाली याचिका
वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने राज्यपाल के बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने के फैसले को चुनौती दी है। Karnatakaउन्होने सुबह 11 बजे बीएस येदियुरप्पा के कर्नाटक के नये सीएम के रुप में शपथ लेने के तुरंत बाद ये अर्जी दी है। संभावना जताई जा रही है कि शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई के दौरान सर्वोच्च न्यायालय उनकी याचिका पर गौर करेगा।

कानून मंत्री रह चुके हैं जेठमलानी
आपको बता दें कि राम जेठमलानी की गिनती देश के प्रतिष्ठित वकीलों में की जाती है। वो वाजपेयी सरकार में कानून मंत्री भी रह चुके हैं, jethmalaniउनके कर्नाटक केस में कूदने के बाद कांग्रेस-जेडीएस को समर्थन मिला है। जेठमलानी से पहले कांग्रेस और जेडीएस कर्नाटक के नये सरकार के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा चुकी है।

कांग्रेस का विधायक गायब
कर्नाटक कांग्रेस के दिग्गज नेता डी के सुरेश ने एक कांग्रेसी एमएलए के लापता होने की बात कही है। उनके अनुसार बेल्लारी से विधायक आनंद सिंह पीएम मोदी के संपर्क में हैं। Karnataka congressमाना जा रहा है कि वो बीजेपी के साथ चले गये हैं। डी के सुरेश के मुताबिक बाकी सभी विधायक एक रिजॉर्ट में मौजूद हैं, जेडीएस के विधायक भी इसी रिजॉर्ट में ठहरे हुए हैं।

बहुमत साबित करने के लिये 15 दिन का समय
आपको बता दें कि बीजेपी सीएम पद के उम्मीदवार बी एस येदुरप्पा ने मंगलवार को राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा किया था, yediyurappaजिसके बाद राज्यपाल वजुभाई वाला ने प्रदेश में बीजेपी को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया। उन्होने येदियुप्पा को आज शपथ दिलवाया । साथ ही बहुमत साबित करने के लिये 15 दिन का समय दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने मांगा समर्थन पत्र
राज्यपाल के फैसले के बाद कांग्रेस और जेडीएस सुप्रीम कोर्ट पहुंची। कोर्ट ने गवर्नर के फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया, supreme-courtलेकिन उन्होने नई सरकार से विधायकों के समर्थन का पत्र मांगा। आपको बता दें कि बीजेपी के 104 विधायक हैं, जबकि सरकार बनाने के लिये 111 विधायकों की अवश्यकता है, हालांकि बीजेपी का दावा है कि उनके पास जादुई आंकड़ा है।