2 शातिर चोरनियों की करतूत, मध्‍यप्रदेश से दिल्‍ली आकर लगाती थीं लोगों की मेहनत की कमाई में सेंध, फिर ऐसे आईं गिरफ्त में

एक शहर से दूसरे शहर आकर चोरी की वारदात को अंजाम देना और फिर गुम हो जाना । पुलिस को इन चोरनियों की तलाश काफी समय से थी । आखिरकार ये मिल ही गईं और इनकी पहचान भी हो गई ।

New Delhi, Oct 08 : दो शातिर चोरनियां, उम्र 22 से 26 साल के बीच । एक शहर से दूसरे शहर आना और चोरी कर लोगों की गाढ़ी कमाई पर हाथ फेर वापस लौट जाना । इन दो चोरनियों की तलाश दिल्‍ली पुलिस को लंबे समय से थी । दूसरे शहर से आने के कारण इनकी खोजबीन थोड़ी मुश्किल जरूर रही लेकिन नामुमकिन नहीं । पुलिस ने इन्‍हें सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार किया है ।

Advertisement

मध्‍यप्रदेश से दिल्‍ली आकर चोरी
ये दोनों लड़कियां 25 और 26 साल की बताई गई हैं । पकड़ी गई आरोपियों की पहचान पचोर, राजगढ़, मध्यप्रदेश निवासी ललिता और रचना के रूप में हुई है । ये दोनों मध्यप्रदेश से दिल्ली आकर बैंक, रेलवे स्टेशन और शादी समारोहों में लोगों के कीमती सामान उड़ाने में महिर थीं । इस गैंग में और लोगों के शामिल होने की भी आशंका है । दोनों महिलाओं को वारदात के दौरान रंगे हाथों सीसीटीवी कैमरे की मदद से पकड़ा गया ।

Advertisement

जनकपुरी कॉमप्‍लेक्‍स से हुई गिरफ्तारी
दिल्‍ली के जनकपुरी कॉम्पलेक्स में इंडियन बैंक के सुरक्षा गार्ड ने आरोपी लड़कियों की पहचान की । पुलिस ने दोनों को ही मौके से दबोचा । पूछताछ में पता चला कि लड़कियों पचोर गैंग का हिस्‍सा है जो वारदातों को अंजाम देकर वापस मध्य प्रदेश भाग जाता है । इस गैंग में कई और महिलाएं भी शामिल हैं । दिल्‍ल्‍ी पुलिस इस गैंग की अन्‍य महिलाओं की तलाश कर रही है।

इस तरह दिया चोरी को दिया अंजाम
पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज के मुताबिक  21 अगस्त को जनकपुरी इलाके में कारोबारी अनिल अग्रवाल के साथ चोरी की घटना को अंजाम दिया गया । अनिल स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 50 हजार रुपये निकालने गए थे । दोनों महिलाएं बैंक में पहले से मौजूद थीं । वहां एक महिला ने बच्चे को अपनी गोद में लिया हुआ था । अनिल जैसे ही रुपये लेकर बैंक से निकले, बच्चा लिए महिला ने उनका ध्यान बंटाया और दूसरी ने बैग से रुपये निकाल लिए । घटना के बाद अनिल की शिकायत पर पुलिस ने छानबीन शुरू की। सीसीटीवी के आधार पर तस्‍वीरें निकाली गईं और बैंकों के बाहर गार्ड्स को दी गईं ।

चोरी करने की बात कबूली
ललिता और रचना ने चोरी की वारदात में शामिल होने की बात कबूल ली है । पूछताछ में दोनों ने बताया कि राजगढ़ के कई गांवों से ऐसी महिलाएं दिल्‍ली आती हैं । ये लोग मिलकर  दो – दो के समूह में वारदात का अंजाम देते हैं । खासकर महिलाएं इन वारदात को अंजाम देने दिल्ली आती हैं और यहां से मोटा सामान इकट्ठा कर वापस चले जाते हैं । पुलिस इन दोनों से पूछताछ कर इस गैंग से जुड़ी अन्‍य महिलाओं को भी पकड़ने की तैयारी कर रही है ।